SEO kya है, kyu जरुरी है और कैसे करते है?

Seo kya hai

New Blogger जब अपना Blo शुरू करते है तो उनको Blog पर Traffic बढ़ाने में  कठनाई होती है क्योकि Blog पर Traffic बढ़ाने के लिए SEO की जानकारी की आवश्यकता होती है
 हम SEO से Blog पर traffic बढ़ाने की जानकारी सबंन्धित विस्तार पूर्व शेयर की है।  आपसे  इस postपर दी गयी जानकारी  के बाद आपको किसी और जगह SEO की जानकारी खोजने की आवश्यकता नहीं होगी।

SEO क्या है?

SEO मतलब Search Engine Optimization एक ऐसा प्रोसेस है जिसका उपयोग करके हम अपनी website को Search Engine  मे रैंक कराते हैं| SEO में बहुत सारी गतिविधि होती हैं, जिनको उपयोग करके  अपनी website को Google में रैंक करा सकते  हैं, जिससे website का Traffic बढ़ जाता है|
 किसी भी Blog के Post को Search Engine जैसे Google, Yahoo आदि में किसी विशेष Keyword पर करने की प्रकिया को  SEO कहते है।
बहुत Search Engines  है जैसे Yahoo, Bing और Google आदि लेकिन ज्यादातर लोग Google का इस्तेमाल करते है. इसलिए इस post में सिर्फ Google Search Engine के लिए Blog को Optimize करने की जानकारी दी  है।

SEO क्यो जरूरी है?

16 साल के experienced Bloggger Mr. Neil Patel के अनुसार ” Internet पर एक दिन में Millions नए Articles Publish होते है”
मतलब एक Second में कम से कम 24 Posts Publish की जाती है और जितने समय मे आप यह 5 lines पड़ेगे उतने में 216 post published हो जाएगी।
ऐसे में यदि आपकी Blog Posts, Search Result में दूसरे पेज पर भी Rank है तो उनसे आपके Blog पर कोई ट्रैफिक नहीं आता है और आपको उन Blog Post को Optimize करके पहले पेज पर रैंक करने की आवश्यकता है।
Blog पोस्ट को पहले page पर रैंक करने के लिए आपको Search Engine की algorithm समझकर Blog पोस्ट को SEO Friendly बनाना अत्यधिक आवश्यक है।

Blog Post को SEO Friendly कैसे बनाये?

Success का कोई Shortcut नही है उसी तरह Search Engine में Rank करने का कोई Shortcut नही है.
नीचे हम SEO को step by step समझाया है उसको Follow कर Website को Search Engine के लिए Optimize करना सीखेंगे।
Process of SEO- सामान्यतः SEO 2 प्रकार का होता है –
ON-Page SEO
OFF-Page SEO
अब हम इन 2 SEO के प्रकार के बारे में detail में जानेंगे
1. ON-Page SEO
On Page  एक बहुत बड़ा Topic है| On Page का मतलब है, अपनी website को Google के ruels के अनुसार बनाना| On Page SEO में  अपनी website को edit करके उसे ऐसा बनाते हैं कि Google उसे आसानी से पढ़ सके और User भी website से ज़्यादा से ज़्यादा आकर्षित हों|  On Page SEO में क्या क्या करना  हैं, ये हम आपको बताते हैं –
ON Page SEO: Step By Step Guide
1. Website Speed

1. आपकी website की speed 1-5 second है तो आपकी website Fast है.
2. आपकी website की speed 5-10 second है तो आपकी website Average है – इसे बेहतर करले.
3. आपकी website की speed 10 से ज्यादा second है तो आपकी website Poor है – आपको जल्दी उसे ठीक करले
 Speed Slow क्यों होती है  – अगर website में बहुत अधिक बड़े बड़े heavy pictures डाल देते हैं तो website की speed slow हो जाती है. Pictures और javascript code को लोड होने में बहुत time लगता है. तो ध्यान रहे कि pictures का size कम हो और javascript का कम से कम उपयोग हो|
2. Title Optimization
 Website को Rank कराने के लिए Title Tag का होना  जरूरी  है, Title जितना ज़्यादा optimized होगा उतना ही आपको फायदा होगा |
कैसे बनाये अच्छा Title-
Meta Title की लंबाई 70 अक्षर  से अधिक नहीं होनी चाहिए. Title में आपको Main keyword  ज़रूर लाये. सबसे  महत्वपूर्ण की बात ये है कि आप अपने Title में बार बार same keyword 
फिर से नहीं डाले.
3. Meta Tag Optimization
आपके Search Resul के नीचे दिए गए डिस्क्रिप्शन को meta tag कहते है . Meta tag से पता चलता है कि आपके पेज का content क्या है आप इसके जरिए क्या बताना चाहते हैं लोग आपकी Webpages को पसंद करें। .
Meta tag से आपकी post में Traffic पर मदद करता है हैै


 4. Keywords Planning
जब भी आप Artice लिखें तो आपकी LSI Keyword का इस्तेमाल जरूर करें. Keyword की मदद से आप लोगों द्वारा Search को आसानी से Link कर सकते हैं. साथ ही साथ जो Important Keyword  है उनको Bold कर दें जिससे Reader को पता चले यह Keyword Important है और उनका ध्यान उस तरफ आकर्षित होगा.
5. Hidden Content
आपकी website में कोई Hidden Content नहीं होना चाहिए| कई बार लोग अच्छी Rank के लिए content post पर डाल देते हैं और उसको Hide कर देते हैं,  जब कोई user साइट पर पढ़ने आता है तो Hide वाला content नही दिखता हैं | Google ऐसे Hidden Content से नफरत करता है|
6. Image Alt Tag
बहुत से लोग इस बात का पता नहीं होगा कि Google Image को नहीं पढ़ सकता | Google Image में लगे Alt tag से ये पता करता है कि ये Image किसकी है| 
7. URL Structure 
आपके post के URL का Link आपको Rank कराने में मदद करता है| Post का URL Topic से मिलता होना चाहिए जिससे Google को पता लग जाए की ये Post किस Topic से सम्बंधित  है|

8. Internal Links 
Internal linking Seo के साथ साथ traffic बढ़ाने का  सबसे अच्छा तरीका है|  internal Linking आपके website के traffic को बढ़ाने में मदद करता है|
Internal Linking का सबसे अच्छा example wikipedia है जहा आपको प्रत्येक words के meaning को जानने के लिए कही और जाने की जरूरत नही होती आप उसी page पर उस words पर click करके आसनी से meaning और जानकारी देख सकते है।
अपने blog को Search engine friendly बनाने के साथ traffic बढ़ाने के लिए posts में उपयोग किये गए महत्वपूर्ण शब्दो को अपने blog की दूसरी posts से link जरूर करें।
Internal Linking करते समय याद रहे कि आपको अधिक Internal Linking नही करनी है क्योंकि इससे आपके Blog के पाठको को post पड़ने में समस्या हो सकती है इसलिए अपने पाठकों का खाश ध्यान रखकर प्रत्येक post और pages 1% से 1.5% Internal Linking जरूर करें।
9. External Links
Pages को Seo करते समय pages में high quality websites की links को भी जोड़ना होता है जिससे search engine को समझ आता है कि आप high quality website और  blog के reference लेकर पाठको तक अच्छी जानकारी share कर रहे हो।
EXTERNAL linking से एक अच्छा फायदा है कि आप जिसकी भी website या blog की links को जोड़ते है उससे आपके अच्छे संबंध बनते है और आप अपने  blog के लिए भी backlinks के लिए email करके बोल सकते हैं अधिकतर लोग आपको backlinks जरूर देंगे जिससे आपकी site traffic और Ranking दोनों बढ़ती है।
External linking करते समय याद रहे जी आपको सिर्फ अच्छी और trusted websites और blogs को link करना है यदि आप कम PR और DA वाली Website को link करेगे तो आपको कोई फायदा नही होगा।
इसलिए पहले websites और blogs का PR और DA Check करें उसके बाद ही Links को webpages में जोड़े। DA और PA check करने के लिए आप MOZ DA और PA checker tool का उपयोग कर सकते है।
10. Bold Important Keyword
आप जिस keyword से अपनी post को rank कराना चाहते हैं, उस keyword को “Bold” में रखें|  जिससे Google समझ जाता है कि Post का Focus किस keyword पर है|
11. Website Structure 
वेबसाइट देखने में को user friendly होना चाहिए | बहुत सारे लोग अपनी website में बहुत छोटे font size को उपयोग करते हैं|  आज कल अधिकतर लोग Mobile पे ही website open करते हैं तो आपका font size कम से कम 15px तो होना ही चाहिए| आपका Heading Tag properly दिखना चाहिए | आपकी website देखने में आकर्षक लगनी चाहिए जिससे पढ़कर अच्छा लगे |
12. Responsive Website
Responsive website का मतलब होता है एक ऐसी website जो Mobile या computer किसी पर भी खुलते ही अपनी height और width device के अनुसार सेट कर ले| Responsive website पर Mobile Readers को पढ़ने में कोई मुश्किल नहीं होती है | आपकी website responsive है या नहीं, ये चेक करने के लिए आप अपने Browser को adjust करिये, नीचे देखकर आप समझ जाएंगे  कि कैसे आप अपनी website चेक करेंगे कि responsive है या नहीं|

13. Heading Sequence
HTML में कुछ heading tags होते हैं – H1, H2, H3, H4, H5, H6. हमें  heading tag को उपयोग  करते समय ध्यान रखना चाहिए कि इनको उपयोग करने का एक क्रम होता है|
पहले H1, फिर H2, फिर उसके बाद H3 ऐसे क्रम में चलना चाहिए, कुछ लोग H1, फिर H2, फिर H1,,,, ऐसे भी उसे करते हैं लेकिन ये तरीका बिल्कुल सही नहीं है और SEO के लिए हानिकारक  है|
14. Post Length
आप जितना अधिक आप जानकारी  देंगे उतना ही जल्दी आपकी Rank हो जायेगी |आपकी post में जानकारी वाला content होना बहुत ज़रूरी है| आपकी post में कम से कम 1000 शब्दों का होना चाहिए  |
15. Sitemap
 Sitemap एक Type का Map होता है जिसे पढ़कर Google को आपके website सभी post का structure पता लग जाता है| जब Google किसी website को पढ़ता है तो सबसे पहले Google का crawler sitemap.xml नाम की file को search करता है|  फाइल Google के crawler को मिल जाए तो आसानी से आपकी website  को crawl कर लेता है नहीं तो crawler को आपकी website के  सभी posts तक पहुंचने में  समस्या होती है. आप अपनी website पे sitemap ज़रूर लगाए|

2. Off Page Search Engine Optimization

यदि आप प्रतिदिन कुछ समय Off Page Optimization को देंगे तो आपकी Website Google मर जरूर rank होंगी Off Page Optimization को बेहतर बनाने के लिए नीचे दिए गए points को follow करना होता है।

1. Search Engine Submission

अगर आप चाहते हैं कि आपकी Website की रैंक बड़े तो आप को search Engine में अपने पोस्ट को submit करना होगा.
 सबसे पहले आपको काम यह करना है कि आप अपनी website के लिए से sitemap तैयार करें फिर उसको search Engine में डाल दे.

आप अपने Blog के प्रत्येक पेज को search Engine में अलग अलग करके submit कर सकते हैं. आपको गूगल सर्च कंसोल में जाकर webpage को  सर्च करना होगा. इसी प्रकार अलग-अलग सर्च इंजन में एवं webmaster tool की मदद से अपनी website और Blog के बारे में बता सकते हैं.
2. Active on Social Sites
Social Media के माध्यम से भी आप अपने webpage  को Rank कर सकते हैं इसलिए आपको अपनी पोस्ट को शेयर करना जरूरी है आपको Social Media पर अपनी website का एक page बनाना चाहिए तथा उस  page एक्टिविटी  ताकि के माध्यम  से भी आपके website  ट्रैफिक आएगा.अधिक से अधिक social share, comments और likes के लिए social sites पर active रहना बेहतर होता हैं।

3. Forum Marketing

Forum Marketing के जरिए आप अपने website के लिए अच्छे ट्रैफिक और backlinks तैयार कर सकते हैं. जिससे आपके website की रैंकिंग बढ़ जाएगी.
 आपको अपने blog से संबंधित forum जुड़ना चाहिए और कुछ समय के लिए दूसरे के bloggers के साथ question answer  करना चाहिए. इससे आपका knowledge भी बढ़ेगा तथा आपकी सारी समस्या दूर हो जाएगी. 
दूसरे blog के संपर्क में होने से आपको backlinks बनाने में सहायता मिलती है तथा आप को backlinks जल्दी मिल जाती है.अभी   forums को खोजिये और Blog पर traffic  को बढ़ाइए।

4. Blog marketing

Blog मार्केटिंग एक तरीका है जिसके जरिए आप अपने website पर ट्रैफिक और backlinks बढ़ा सकते हैं.ज्यादातर blogger इसी तरीके का इस्तेमाल करते हैं अपनी वेबसाइट पर ट्रैफिक बढ़ाने के लिए. 

Blog  मार्केटिंग का इस्तेमाल करने के लिए आप अपने website या blog से सम्बंधित HIGH PA और DA वाले Blogs  ढूंढे और कम से कम रोजाना पांच से 8 कमेंट करें.

Post के अनुसार कमेंट करें ताकि  blogger को पसंद आए और आपके  comment को approve कर दे. आपको comment के जरिए आपको nofollow backlinks मिलेगी जिससे आपके blog को जिंदगी भर Traffic मिलता रहेगा.
5. Question Answer
 Question answers के माध्यम से भी अपने ब्लॉक रैंकिंग बड़ा सकते है  जिससे ट्रैफिक बढ़ने की संभावना  बढ़ जाती है 

अपने Blog से संबंधित Question का जवाब बड़े से बड़े Question answers Sites जैसे Quora पर जरूर दें और अपने Link को वहां पर डाल दें जिससे Traffic आने में मदद मिलेगी.

6. Reviews

Reviews आपके ब्लॉग की Rankk बढ़ाने में सबसे अधिक मदद करता है. यदि कोई Blog आपके Website के बारे में कुछ अच्छा लिखता है तो इससे आपको फायदा मिलता है. 
आप अपने Blog पर दूसरे Blog के बारे में जरूर जरूर लिखें.जिससे आपको फायदा फायदा पहुंचेगा

7. Photos Marketing

आप अपने website के लिए अच्छे-अच्छे फोटो बनाए और सोशल मीडिया पर फोटो को शेयर करें और  साथ में ही अपनी Webpage का Link डाल दे. फोटो के जरिए आप Website पर ट्रैफिक बढ़ जाएगा और आपकी रैंकिंग बढ़ेगी.

अपनी पोस्ट में ज्यादा से ज्यादा फोटो को Add करें जिससे पढ़ने वाले को Topic आसानी से समझ में आ जाए और आपके  contents  अच्छा लगे.

8. Video Marketing

आप अपने website के नाम का Youtube पर चैनल बनाएं तथा उस पर Video अपलोड करें जिससे आपके Blog को फायदा पहुंचेगा तथा Traffic भी बढ़ेगा इसके जरिए आप Youtube से पैसे भी कमा सकते हैं. 

Youtube Video को webpage के साथ Link करें जिससे पढ़ने वाले को टॉपिक आसानी से समझ आएगा और आपके website पर लोग ज्यादा देर तक पढ़ेंगे आपकी रैंकिंग में भी प्रभाव पड़ेगा. 

9. Infographic Marketing

Infographic Marketing का मतलब होता है कि आप Graph के जरिए जानकारी को पेश करें जिससे लोगों को समझने में आसानी मिलती है.

आप लोगों को आकर्षित करने के लिए अपने post में infographics  जरूर इस्तेमाल करें.


Post a Comment

Previous Post Next Post